कुंडलिनी शक्ति कैसे जागृत करें?

गुरुदेव की कृपा से कुंडलिनी शक्ति जागेगी

सत्संग सुनने से जीवन का विकास होता है

हरि ओम का गुंजन करो

ब्रह्मज्ञानी गुरु मिले तो कुंडलिनी शक्ति जगाने में मेहनत नहीं करनी पड़ेगी

गुरु में श्रद्धा भक्ति है तो गुरु की कृपा से कुंडली शक्ति जाग जाएगी

ध्यान, भजन जीवन में करो

जीवन में श्रद्धा और साधना बहुत जरूरी

कुंडलिनी शक्ति जागृत होने से जीवन में निखार आता है

गुरु की दृष्टि मात्र से चमत्कारी फायदे होने लगते हैं

नंगे पैर घूमने से और संसार व्यवहार ज्यादा करने से बचे

TAG- संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, सनातन धर्म, कुंडलिनी शक्ति, जीवन, हरि ओम, मेहनत, श्रद्धा भक्ति, ध्यान, भजन, दृष्टि, नंगे पैर, संसार व्यवहार

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed #SantShriAsharamjiBapu #Satsang