गोपाष्टमी दिव्य कथा

भगवान श्री कृष्ण की कथा

बुधवार की अष्टमी को जप करने से 10000 गुना फल होता है

कृष्ण ने बुधवारी अष्टमी के दिन गौ माता की पूजा की थी

नया सीखने की उत्सुकता होनी चाहिए

नम्रता का गुण जीवन में बहुत जरूरी है

समय का सदुपयोग करना चाहिए

जो समय बर्बाद करता है समय उसको एक दिन बर्बाद कर देता है

जीवन में सत्संग बहुत जरूरी

गुरु की बात माननी चाहिए

भगवान श्री कृष्ण की विनम्रता का एक अनोखा उदाहरण

Tag – संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, भगवान श्री कृष्ण, बुधवारी अष्टमी, गौ माता, उत्सुकता, नम्रता, समय, गुरु, जीवन