चिंता मत करो ईश्वर के होकर जिओ

समता का आशय लो

कर्म करो और फल की चिंता छोड़ो

योग में लग जाओ

सुख में सावधान रहो

सफलता और विफलता को सच्चा ना मानो

सच्चा सिर्फ परमेश्वर है

सब बीत रहा है

अपने आप में गोता लगाओ

अंतरात्मा का सुख पाओ

ब्रह्मज्ञानी सदा सुखी

TAG – संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, चिंता, समता, कर्म, योग, सुख, सफलता, विफलता, अंतरात्मा

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed