जयदेव महाराज की कथा – प.पू.संत श्री आशारामजी बापू

guru01

जयदेव महाराज की कथा – प.पू.संत श्री आशारामजी बापू  

संत श्री आसारामजी बापू की अमृतवाणी :

2 दिसंबर 200 9

जापानी पार्क,

रोहिणी, दिल्ली

सत्संग के मुख अंश:

* गृहस्थ संत जयदेव महाराज के हाथ काट कर कुआ में डाल दीया ……

* जयदेव के हाथ काटने वालो पर प्रकृति का प्रकोप ……

* कोई भी पपी पाप करता है, कोई देखे चहे ना देखे, पापी को उस्का पाप खुतर खुतर कर खाता है ….

* जयदेव महाराज कटे हुये हाथ वापस आ गयें …

 

About Asaram Bapuji

Asumal Sirumalani Harpalani, known as Asaram Bapu, Asharam Bapu, Bapuji, and Jogi by his followers, is a religious leader in India. Starting to come in the limelight in the early 1970s, he gradually established over 400 ashrams in India and abroad.