परिस्थितियों की गुलामी छोड़ो

सुविधा की तरफ भाग ना मन की कमजोरी

जो मिला है उसी में खुश रहो

दुख सुख मन में आते हैं

सब बीत रहा है

रामकृष्ण परमहंस का सत्संग

डॉक्टर नाग महाशय थे रामकृष्ण परमहंस के परम शिष्य

बाहर की उपलब्धियों में कोई सार नहीं

आत्म साक्षात्कार करो

संसार धोखा है

एकाग्रता और अनासक्ति से विजय प्राप्त करो

TAG – संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, सुविधा, खुश, दुख सुख, रामकृष्ण परमहंस, डॉक्टर नाग महाशय, रामकृष्ण परमहंस, उपलब्धियों, संसार, एकाग्रता, अनासक्ति

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed