बंधन और मुक्ति का रहस्य

ओमकार का गुंजन करो

मन ही बंधन और मुक्ति का कारण है

सब उद्धव मन ही से पैदा होते हैं

बीती बातों को याद ना करें

अपने चिंतन को भगवान में लगाएं

आप स्वयं अपने दुख का कारण बनते हैं

खाली मन शैतान का घर

मन भगवत आकार बनाओ

धन से व्यक्ति बड़ा नहीं होता

बाहर का पद 1 दिन छूट जाएगा

TAG- संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, सनातन धर्म, बंधन, मुक्ति, ओमकार, मन, बीती बातों, चिंतन, दुख, शैतान, धन, पद

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed