ब्रह्मज्ञानी आप परमेश्वर

अपने जीवन में अद्वैत भाव लेकर आओ

ब्रह्मज्ञानी परमेश्वर का रूप होते हैं

ब्रह्मज्ञानी की बात ना मानने से नुकसान पक्का होगा

ब्रह्मज्ञानी के कारण ही सृष्टि अपना काम करती है

संत का आदेश हमेशा मानना चाहिए

संत प्रकृति के नियम बदल सकते हैं

ब्रह्मज्ञानी का सत्संग जीवन में बहुत जरूरी है

जीवन में गुरु नहीं तो जीवन व्यर्थ है

मंत्र जाप हमेशा करते रहना चाहिए

आत्मसाक्षात्कार जीवन का परम उद्देश्य बनाएं

TAG- संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, सनातन धर्म, अद्वैत भाव, नुकसान, सृष्टि, आदेश, प्रकृति के नियम, जीवन, व्यर्थ, मंत्र जाप, उद्देश्य

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed #SantShriAsharamjiBapu #Satsang