मधुमय प्रसंग

मधुमय आत्मा को मधुरता चाहिए

भगवान की सारी सृष्टि मधुमय है

मधुमय का मजा लो

ईश्वर का मधुमय पिलाओ

ईश्वर से प्रीति करो

TAG- संत आसाराम बापू, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, मधुमय, आत्मा, भगवान