मेरा घर तो गुरु चरणों में है इसलिए में कहीं नहीं जाऊंगा

गुरु कृपा ही शिष्य का परम मंगल कर सकती है

अमीर खुसरो ने निजामुद्दीन की कृपा पाई

गुरु की सेवा साधु जाने

अमीर खुसरो और निजामुद्दीन का प्रसंग

संत के चरणों की संत के चरणों की धूलि की कोई कीमत नहीं लगा सकता

संत की शरण जाने से ही मुक्ति

संत की कृपा पचाना सबके बस की बात नहीं

अमीर खुसरो की संत भक्ति

ज्ञान स्वरूप ब्रह्म का साक्षात्कार करने के लिए मिला है मनुष्य जन्म

संकल्प से ही है यह सृष्टि

TAG- संत आसाराम बापू, ॐ , ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, गुरु कृपा, अमीर खुसरो, निजामुद्दीन, संत के चरणों, भक्ति, ब्रह्म, संकल्प, सृष्टि