स्वयं की खोज कैसे करें?

सम्राट इब्राहिम की कहानी

अहंकार से पतन होता है

भोग वासना से सुख नहीं मिलता

संसार नाशवान

आत्म ज्ञान पाना जीवन का एकमात्र उद्देश्य बनाओ

मनुष्य और ईश्वर के बीच अहंकार ही वह दीवार है

मैं ब्रह्म हूं

ब्रह्मज्ञानी महापुरुष ही संसार का असली भला कर सकते हैं

ब्रह्मा वेता परम पूजनीय होते हैं क्योंकि वह अहंकार रहित होते हैं

नजरों से भी निहाल हो जाते हैं जो ब्रह्मज्ञानी महापुरुष की नज़रों में आ जाते हैं

TAG- संत आसाराम बापू, भगवान, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, सनातन धर्म, स्वयं, सम्राट इब्राहिम, अहंकार, भोग वासना, नाशवान, आत्म ज्ञान, मनुष्य, ब्रह्म, ब्रह्मज्ञानी महापुरुष, पूजनीय

ॐ #MereBapuNirdoshHain #ISupportAsaramBapu #AsaramBapu #SelflessServicesByBapuji #Bapuji #AsaramBapujiIsFramed