ॐ कार उपासना की महिमा

ओंकार की उपासना बहुत लाभ देगी

प्राणायाम से जीवनी शक्ति का विकास होता है

अंतर्यामी परमेश्वर ओमकार मंत्र के देवता

भगवान नारायण ने खोजा ओमकार मंत्र को

ओंकार की छंद गायत्री है

ओमकार मंत्र के जप से जीवन में सफलता

ओमकार मंत्र व्यापक ब्रह्म परमात्मा से एकाकार कराता है

ओमकार मंत्र के जप से तीव्र वैराग्य होगा

ओमकार मंत्र के जप से सारे दुखों का अंत

संत और सत्संग से परम लाभ

TAG- संत आसाराम बापू, ॐ , सत्संग, ब्रम्ह ज्ञानी, आत्म साक्षात्कार, ओंकार, प्राणायाम, अंतर्यामी परमेश्वर, भगवान नारायण, गायत्री, जीवन, व्यापक ब्रह्म, वैराग्य, दुखों