Category Archives: Vidyarthi Shivir

विद्यार्थी संस्‍कार शिविर रायपुर

साध्‍वी कृष्‍णा बहन के सान्निध्‍य में आयोजि त विद्यार्थी संस्‍कार शिविर का गरिमामय समापन

परिवार के लोग प्रतिदिन कुछ मिनट एकसाथ बैठकर भगवन्‍नाम कीर्तन करें तो घर का बिगड़ा वातावरण सुधरेगा, बच्‍चे कहना नहीं मानते तो ऐसा करने से वे भी कहना मानेंगे । घर में फिल्‍मी एक्‍टरों के श्र‍ीचित्र न लगाकर गुरुदेव के, भगवान के श्रीचित्र लगाने से शांति रहती है, उक्‍त बातें साध्‍वी कृष्‍णा बहन ने लवकुश वाटिका वी.आई.पी. रोड स्थित संत श्री आशारामजी आश्रम में बड़े साधकों के लिए आयोजित सत्‍संग में बताईं । साध्‍वी कृष्‍णा दीदी ने कहा कि भगवान के नाम, प्रार्थना, ध्‍यान में वो शक्ति है जो सब कुछ बदल सकती है । हमें अच्‍छे संस्‍कार इतने भरने हैं कि बुरे संस्‍कार घुसने के लिए जगह ही न हो ।

कृष्‍णा दीदी ने गुरुभक्ति की महिमा बताते हुए कहा कि गुरुमूर्ति को हृदय के भीतर बसाएं, दृष्टि को भटकाए बिना हम जिसका चिंतन, मनन, सुमिरन करते हैं, जिनको महत्‍व देते हैं, प्रेम करते हैं वे हमें अपने जैसा बना देते हैं । माता-पिता अपने बच्‍चों के दुलार में उनकी बुरी आदतों को नजरअंदाज कर देते हैं, बच्‍चों को स्‍वावलम्‍बी नहीं बनाते हैं परिणामस्‍वरूप बच्‍चे उनके नियंत्रण से बाहर हो जाते हैं । माता-पिता को चाहिए कि वे अपने बच्‍चों को मनु-शत्रुपा जैसे स्‍नेह के साथ अच्‍छे संस्‍कार बाल्‍यकाल से ही दें ताकि उनका भविष्‍य उज्‍ज्‍वल हो ।

इससे पूर्व आश्रम परिसर में विगत 4 दिनों से चल रहे विद्यार्थी संस्‍कार शिविर का दोपहर को गरिमामय समापन हुआ । शिविरार्थियों ने व्‍यसन छोड़कर अपने जीवन को गुलाब की तरह महकाने का संकल्‍प लिया । शिविर के दोरान आयोजित विभिन्‍न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को साध्‍वी कृष्‍णा बहन ने अपने करकमलों से पुरस्‍कृत किया । आदर्श बालक का पुरस्‍कार लोकेश सेन एवं करण साहू को प्राप्‍त हुआ ।

DSC_0290DSCN6165 DSCN6160 DSCN6214DSC_1500DSCN5520 DSCN5461