Category Archives: Vidyarthi Shivir

विद्यार्थी शिविर बेमेतरा (छ.ग.)

विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर बेमेतरा

          श्री योग वेदांत सेवा समिति एवं बालसंस्कार संचालन समिति बेमेतरा के तत्वाधान में विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास हेतु दो दिवसीय संत श्री आसाराम जी बापू द्वारा प्रेरित विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर 26 जून 2017  को संपन्न हुआ ।
सरस्वती शिशु मंदिर गुरूजी भवन सिंघौरी , बेमेतरा में छात्राओं के लिए आयोजित इस शिविर में 205 छात्राएं अपने भविष्य को उज्जवल बनाने की राह में अग्रसर हुई । इस शिविर में छात्राओं को शारीरिक मानसिक एवं आध्यात्मिक दृष्टि से उन्नत बनाने हेतु उपयोगी आसन, प्राणायाम, मुद्राएं, परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के नुस्खे ,भारतीय संस्कृति की महिमा, मातृ, पितृ ,गुरु भक्ति ,आदर्श दिनचर्या शिष्टाचार के नियम आदि विभिन्न प्रेरक प्रसंग कहानी खेल चुटकुले के माध्यम से हंसते-खेलते सिखाए गए शिविर स्थल पर संस्कार की आकर्षक प्रदर्शनी लगाई गई थी जिसका आकलन कर बालिकाओं ने अपने जीवन को उन्नत बनाने की कला सीखी, शिविर के दौरान प्रतिदिन बालिकाओं को स्मरण शक्ति एवं बुद्धि शक्ति बढ़ाने हेतु सूर्य अर्घ्य, तुलसी के पांच पत्तों का सेवन, भोजन के पूर्व श्रीमद्भागवत गीता के 15वें अध्याय का पाठ कराया जाता था। शिविर के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता छात्राओ को पुरस्कृत भी किया गया |IMG-20170627-WA0024 IMG-20170627-WA0025 IMG-20170627-WA002626.6.17 bemet. 27.6.17 bemetara

विद्यार्थी शिविर छ.ग.

विद्यार्थी शिविर छ.ग. 

संत श्री आशारामजी बापू की पावन प्रेरणा से छ.ग. में विभिन्न जगहों पर विद्यार्थी उज्वल भविष्य निर्माण शिविर का आयोजन किया गया जिसमे बेलोदी, लगरा , बिलासपुर, दुर्ग ,मोतीपुर व गुरुर जिला बालोद के छात्र – छात्राओं ने जप – ध्यान , आसन प्राणायाम  के साथ विभिन्न योगिक प्रयोग का भी लाभ उठाया गया |

6x4 balodi 6x4 bilaspur 6x4 durg 6x4 gurur 6x4 lagra 6x4 motipur

अनुष्ठान शिविर रायपुर

अनुष्ठान शिविर रायपुर

पूज्य संत श्री आशारामजी बापू की पावन प्रेरणा से रायपुर आश्रम में 3 से 9-मई तक विद्यार्थियों का सारस्वत्य मंत्र व साधकों का गुरु मंत्र अनुष्ठान शिविर का लाभ लिया गया | विद्यार्थी व साधक वैदिक रीति से त्रिकाल संध्या, योगासन, प्राणायाम,सूर्यउपासना , हवन व मन्त्र जप करते | इसके साथ ही विद्यार्थियों ने विविध खेल-कूद, स्पर्धाएं, नाटिकाएं, इत्यादि का भी लाभ लिया गया |20170511_215614-BlendCollage 20170511_215740-BlendCollage

DSCN0320 DSCN0327 DSCN0414 DSCN0443 DSCN0526 DSCN0545 DSCN0599 IMG_20170503_184347

रायपुर में विद्यार्थी शिविर

रायपुर में विद्यार्थी  शिविर

विद्यार्थियों के शीतकालीन अवकाश का सदुपयोग एवं उनके सर्वांगीण विकास हेतु प्रतिवर्षसंत श्री आशारामजी आश्रम, रायपुर द्वारा विद्यार्थी उज्‍ज्‍वल भविष्‍य निर्माण शिविरों का आयोजन किया जाता है जिसमें हजारों बच्‍चे लाभान्वित होकर अपने भविष्‍य को उज्‍ज्‍वल भविष्‍य बनाने की राह में अग्रसर हुए हैं । 26 व 27 दिसम्‍बर 2016 को इस वर्ष भी छात्रों के लिए आश्रम परिसर में एवंछात्राओं के लिएशक्तिधाम, तेलीबांधा, रायपुर मेंशीतकालीन आवासीय विद्यार्थी उज्‍ज्‍वल भविष्‍य निर्माण शिविर का आयोजन किया गया ।

शिविरों का संचालन, संत श्री आशारामजी आश्रम, मुख्‍यालय अहमदाबाद व रायपुर द्वारा प्रशिक्षित शिविर शिक्षकों द्वारा किया गाया । इन शिविरों में शामिल होने वाले विद्यार्थियों को शारीरिक, मानसिक एवं आध्‍यात्मिक दृष्टि से उन्‍नत बनाने के लिए उपयोगी आसन, प्राणायाम, जप, ध्‍यान, कीर्तन आदि महापुरुषों की जीवनी पर आधारिक प्रेरक प्रसंगों, कहानी, चुटुकुलों, ज्ञानवर्धक खेल एवं पहेली के माध्‍यम से हंसते खेलते सिखाए गये ।

अंतिम दिन हरिनाम संकीर्तन की महिमा समाज पहुँचाने के उद्देश्य से बच्चों द्वारा तेलीबांधा में कीर्तन यात्रा भी निकाला गया |शिविर के दौरान वक्‍तृत्‍व स्‍पर्धा, भजन प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, चित्रलेखन प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया गया जिसकें विजेताओं को आकर्षक पुरस्‍कार दिए गये ।

IMG_20161226_122808_HDR IMG_20161227_083010_HDR-1 IMG_20161227_100208_HDRDSCN2439DSCN2516

विद्यार्थी शिविर बिलासपुर

विद्यार्थी शिविर बिलासपुर

परम पूज्य संत श्री आशारामजी बापू द्वारा प्रेरित विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर श्री योग वेदांत सेवा समिति बिलासपुर द्वारा सिन्धु भवन में 3 दिवसीय दिनांक 20 मई से 22 मई तक छात्राओ का एवं 23 से 25 मई तक छात्रो का शिविर किया गया |

Exif_JPEG_420

Exif_JPEG_420

Exif_JPEG_420

Exif_JPEG_420

Exif_JPEG_420

????????????????????????????????????

DSCN0068

DSCN0080 DSCN0099

विद्यार्थी शिविर बरौदा (रायपुर)

विद्यार्थी शिविर बरौदा (रायपुर)

परम पूज्य संत श्री आशारामजी बापू द्वारा प्रेरित विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर साधको द्वारा द्वारा बरौदा विधान सभा के पास जिला रायपुर में एक दिवसीय दिनांक 25 मई को छात्राओ का शिविर आयोजन किया गया |

DSCN0114 DSCN0134 DSCN0148

विद्यार्थी शिविर रायपुर

विद्यार्थी  शिविर रायपुर में

परम पूज्य संत श्री आशारामजी बापू की पावन प्रेरणा से 17 से 19 मई तीन दिवसीय आवासीय विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर का आयोजन रायपुर आश्रम में भाइयो का एवं बहनों का तेलीबांधा शक्तिधाम में किया गया ,जिसमे सफलता की कुंजियाँ ,संस्कृति का आदर ,आदर्श चरित्र निर्माण का निर्माण ,भारतीय संस्कृति व परम्परावो का महत्व ,विद्यार्थियों का शारीरिक विकास तथा एकाग्रता ,स्मरणशक्ति ,निर्णय क्षमता आदि वृद्धि के लिये विभिन्न यौगिक प्रयोग सिखाया गया | DSCN9561

DSCN5503
DSCN9635 DSCN9674DSCN9855 DSCN992220

विद्यार्थी शिविर बेलोदी – दुर्ग

विद्यार्थी  शिविर बेलोदी – दुर्ग

परम पूज्य संत श्री आशारामजी बापू की पावन प्रेरणा से संत श्री आशारामजी आश्रम बेलोदी – दुर्ग (छ.ग.) में  दिनाक 11 व 12 मई को दो दिवसीय विद्यार्थी उज्जवल भविष्य निर्माण शिविर भाइयो को पूरा हुवा ,जिसमे विद्यार्थियों के सर्वांगीन विकाश हेतु योगिक प्रयोग के साथ अध्यात्मिक लाभ कैसे हो यह भी बताया गया |

DSCN7474 DSCN7492 DSCN7502 DSCN7510

रायपुर आश्रम में विद्यार्थी शिविर

रायपुर आश्रम में विद्यार्थी  शिविर 

विद्यार्थियों के शीतकालीन अवकाश का सदुपयोग एवं उनके सर्वांगीण विकास हेतु प्रतिवर्ष आशारामजी आश्रम, रायपुर द्वारा विद्यार्थी उज्‍ज्‍वल भविष्‍य निर्माण शिविरों का आयोजन किया जाता है जिसमें हजारों बच्‍चे लाभान्वित होकर अपने भविष्‍य को उज्‍ज्‍वल भविष्‍य बनाने की राह में अग्रसर होते  हैं । इस वर्ष भी आश्रम परिसर में दिनांक 25 से 27 दिसम्‍बर (छात्रों के लिए) एवं शक्तिधाम, तेलीबांधा, रायपुर में 26 से 27 दिसम्‍बर (छात्राओं के लिए) शीतकालीन आवासीय विद्यार्थी उज्‍ज्‍वल भविष्‍य निर्माण शिविर का आयोजन किया गया । छात्र-छात्राओं के लिए अलग-अलग आयोजित इन आवासीय शिविरों में कक्षा छठवीं से ग्‍यारहवीं तक के विद्यार्थी शामिल हुये  ।

शिविरों का संचालन, संत श्री आशारामजी आश्रम, मुख्‍यालय अहमदाबाद द्वारा प्रशिक्षित शिविर शिक्षकों द्वारा किया गया । शिविर में शामिल होने वाले विद्यार्थियों को शारीरिक, मानसिक एवं आध्‍यात्मिक दृष्टि से उन्‍नत बनाने के लिए उपयोगी आसन, प्राणायाम, जप, ध्‍यान, कीर्तन आदि महापुरुषों की जीवनी पर आधारिक प्रेरक प्रसंगों, कहानी, चुटुकुलों, ज्ञानवर्धक खेल एवं पहेली के माध्‍यम से हंसते खेलते सिखाए गये । कीर्तन के साथ देवमानव हास्‍य भी कराया गया साथ ही जैविक घड़ी पर आधारित दिनचर्या से होनेवाले फायदों के बारे में विस्‍तारपूर्वक जानकारी दी गई  और शिविरार्थियों को इसी दिनचर्या के आधार पर गतिविधियों में शामिल किया गया । शिविर के दौरान वक्‍तृत्‍व स्‍पर्धा, भजन प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, चित्रलेखन प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया गया  जिसकें विजेताओं को आकर्षक पुरस्‍कार दिए गये । इसके अलावा शिविर में भाग लेने वाले प्रत्‍येक विद्यार्थी को प्रमाण पत्र भी दिया गया ।

DSCN1946DSCN2248DSCN1843 DSCN1891DSCN2078DSCN2136

IMG_20151227_165054
Final NavbharatFinal PatrikaFinal HBFinal DD

विद्यार्थी संस्‍कार शिविर रायपुर

साध्‍वी कृष्‍णा बहन के सान्निध्‍य में आयोजि त विद्यार्थी संस्‍कार शिविर का गरिमामय समापन

परिवार के लोग प्रतिदिन कुछ मिनट एकसाथ बैठकर भगवन्‍नाम कीर्तन करें तो घर का बिगड़ा वातावरण सुधरेगा, बच्‍चे कहना नहीं मानते तो ऐसा करने से वे भी कहना मानेंगे । घर में फिल्‍मी एक्‍टरों के श्र‍ीचित्र न लगाकर गुरुदेव के, भगवान के श्रीचित्र लगाने से शांति रहती है, उक्‍त बातें साध्‍वी कृष्‍णा बहन ने लवकुश वाटिका वी.आई.पी. रोड स्थित संत श्री आशारामजी आश्रम में बड़े साधकों के लिए आयोजित सत्‍संग में बताईं । साध्‍वी कृष्‍णा दीदी ने कहा कि भगवान के नाम, प्रार्थना, ध्‍यान में वो शक्ति है जो सब कुछ बदल सकती है । हमें अच्‍छे संस्‍कार इतने भरने हैं कि बुरे संस्‍कार घुसने के लिए जगह ही न हो ।

कृष्‍णा दीदी ने गुरुभक्ति की महिमा बताते हुए कहा कि गुरुमूर्ति को हृदय के भीतर बसाएं, दृष्टि को भटकाए बिना हम जिसका चिंतन, मनन, सुमिरन करते हैं, जिनको महत्‍व देते हैं, प्रेम करते हैं वे हमें अपने जैसा बना देते हैं । माता-पिता अपने बच्‍चों के दुलार में उनकी बुरी आदतों को नजरअंदाज कर देते हैं, बच्‍चों को स्‍वावलम्‍बी नहीं बनाते हैं परिणामस्‍वरूप बच्‍चे उनके नियंत्रण से बाहर हो जाते हैं । माता-पिता को चाहिए कि वे अपने बच्‍चों को मनु-शत्रुपा जैसे स्‍नेह के साथ अच्‍छे संस्‍कार बाल्‍यकाल से ही दें ताकि उनका भविष्‍य उज्‍ज्‍वल हो ।

इससे पूर्व आश्रम परिसर में विगत 4 दिनों से चल रहे विद्यार्थी संस्‍कार शिविर का दोपहर को गरिमामय समापन हुआ । शिविरार्थियों ने व्‍यसन छोड़कर अपने जीवन को गुलाब की तरह महकाने का संकल्‍प लिया । शिविर के दोरान आयोजित विभिन्‍न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को साध्‍वी कृष्‍णा बहन ने अपने करकमलों से पुरस्‍कृत किया । आदर्श बालक का पुरस्‍कार लोकेश सेन एवं करण साहू को प्राप्‍त हुआ ।

DSC_0290DSCN6165 DSCN6160 DSCN6214DSC_1500DSCN5520 DSCN5461