गो रक्षा जाग्रति यात्रा रायपुर (छ.ग.)

1525576_305277266331126_7949538758303452921_n

10414887_305285549663631_525605838413951149_n

1604934_305285562996963_2600658055145290919_n

पूज्य संत श्री आशारामजी बापू की प्रेरणा से रायपुर आश्रम, आश्रम की समितियाँ, युवा सेवा संघ, गुरुकुल के विद्यार्थीयों  एवं बापूजी के साधकों द्वारा गोपाष्टमी पर्व  विशाल स्तर पर मनाया गया ।  बापूजी के निर्देशानुसार  गौशालाओं के अलावा गाँव-गाँव जाकर गायों को पुष्टिवर्धक लड्डू खिलाये तथा गौ-रक्षा यात्रा निकालकर लोगों को गौ-रक्षा एवं गौसेवा के लिए प्रेरित किया गया । रायपुर के गौ -गाँव में गोंदवारा , मजदूर नगर, सरोरा, उरला , बिरगांव क ज्ञान दीप विद्यालय, रावा भाटा, अमलीदीह , टेमरी गाँव , मंदिर हसोद , मठ पुरेना , धरमपुरा, डुंडा , फुंदेर गाँव, लालपुर, कबीर नगर, भटगांव आदि स्थानों पर कार्यक्रम संपन्न हुआ ।

साधकों ने मनाया अनोखा गो प्रेम दिवस
रायपुर (छ.ग.) के साधको ने 17 स्थानों पर गो पूजन और गो रक्षा जाग्रति यात्रा का आयोजन किया !
और प्रत्येक अमावस्या के दिन गो पूजन का संकल्प किया! !
और प्रत्येक दिन भोजम का प्रथम ग्रास गो माता को अर्पण का संकल्प किया !

 

About Asaram Bapuji

Asumal Sirumalani Harpalani, known as Asaram Bapu, Asharam Bapu, Bapuji, and Jogi by his followers, is a religious leader in India. Starting to come in the limelight in the early 1970s, he gradually established over 400 ashrams in India and abroad.