गुरुकृपा ही केवलम शिष्यस्य परम मंगलम

gurukripa