शाण्डिली (गलता) तीर्थ की कथा

Kumbhamela_3
इस सत्संग के मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं:
1. शाण्डिली / गलता तीर्थ की कथा
2. रे जोगी – भजन
3. होली के केमिकल रंगो का सत्य
4. किस में उम्र कौन सा केन्द्र विकसित होता है |
5. राकेश पहेलवान का अनुभव |
6. सुख, दुःख में अपनी समझ सत्संग से |
7. तीन नजरिये: पुरुषार्थवाद, प्रारब्धवाद भागवतवाद और
8. रहिदास और सिकंदर लोदी की कथा |
9. मंत्री जो हर बात में अच्छा हुआ, भला हुआ कहता था की कथा |
10. चार चीजों से जीवन शुद्ध होता है |
11. ॐ र की उपासना का महत्व और उपासना प्रयोग |